Total Samachar….. व्यंग वार…. प्रवासी मजदूरों की वतन वापसी…..

0
424

कोरोना काल में जिस तरह से प्रवासी मजदूरों ने पलायन किया और अपने वतन की ओर सैकड़ों किलोमीटर पैदल ही निकल पड़े। प्रवासी मजदूरों की इस व्यथा पर कवित्री स्निग्धा बनर्जी ने अपने कविता के माध्यम से बड़े ही मार्मिक ढ़ंग से दर्शाया हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here