Total Khabar पुछता हैं हिस्दुस्तान..कब जागेगा हिदुस्तान…..

0
207

पुछता हैं हिस्दुस्तान..कब जागेगा हिदुस्तान…..

हमारी मुहिम की शुरूआज आज यहां से हो रही हैं कि “पुछता हैं हिन्दुस्तान..कब जागेगा हिन्दुस्तान..”। जी हां आज ये बड़ां प्रश्न हमसे हमारा देश हिन्दुस्तान हम सब हिन्दुस्तानीयों से चिल्ला चिल्ला कर पूछ रहा हैं कि आखिर कब तक सोते रहोगा हिन्दुस्तान…. अब तो जाग जाओं… अब नही जागें तो कब जागोगे…… अब वक्त आ गया हैं कि पूरे हिन्दुस्तान को एक साथ मिल कर कन्धे से कन्धा मिलाकर खड़े होना चाहिये… और इस बात का प्रण लेना चाहिये कि कोरोना जैसे महामारी काल में जिसने हमारी मदद कि उसे दिल से गले लगाना औऱ जिसने मदद नही कि उसे हमारे देश से घर निकाल होना चाहिये…. जी हां हिन्दुस्तान आज हमसे कह रहा हैं कि कोरोना काल में जब हिन्दुस्तान को मदद की जरूरत थी तो उस समय हिन्दुस्तान के साथ अगर कोई खड़ा हुआ तो वो था सिर्फ और सिर्फ हिन्दुस्तानी….. इस लिये आज हिन्दुस्तान हम सब 136 करोड़ हिन्दुस्तानीयों से हाथ जोड़ कर जोरदार तरिके से कह रहा हैं कि हमें आज के बाद से स्वदेशी अपनाओे का नारा बुलन्द करना पड़ेगा…. अब समय आ गया हैं कि  हम सब को अपनी जरूरत का समान केवल और केवल स्वदेशी ही लेना चाहिये… ताकि विदेशी ताकतों को ये पता चल जाये कि हमारे संकट काल में जिस तरह से तुम विदेशी कम्पनियों ने मुह मोड़ा था उसका खामियाजा तो तुम्हे देना ही पड़ेगा। तुम कमाते यहां थे और खर्च विदेशों में करते थे…. लेकिन अब ऐसा नही होगा…. हिन्दुस्तान जाग गया हैं। अब ऐसा नही होने देगा… हिन्दुस्तान को सब समझ में आ गया हैं। आज हिन्दुस्तान सबसे पहले हम सब को ये बताने कि कोशिश कर रहा हैं कि कोरोना काल में सबसे बड़ी मदद किसने कि….. आज हिन्दुस्तान आपको उस कम्पनी के बारे में और उस इन्सान के बारे में बताने जा रहा हैं जिसने हिन्दुस्तान को कोरोना से लड़ने के लिये 1500 करोड़ रूपये दिये…. हिन्दुस्तान आपको कुछ इस कदर समझाने की कोशिश कर रहा हैं…. आगे ध्यान से जरूर पढ़े… ताकि आपको समझ में आ जाये कि क्या कहता हैं हिन्दुस्तान……

चीन ने कोरोना वायरस दिया और टाटा संस ने उससे लड़ने के लिए 1500 करोड़ रुपये दिए हैं। लेकिन हम लोग इतने कृतघ्न हैं कि एक साल बाद जब सब ठीक हो जाएगा तो टाटा अपनी कार बेचने के लिए मर रहा होगा और हम धड़ाधड़ एमजी हैक्टर बुक कर रहे होंगे। अब भी अगर हमने दोस्त और दुश्मन का भेद नहीं समझा तो हमारे जैसी मूर्ख कौम का कोई भविष्य नहीं है। मैं आह्वान करता हूँ कि चीन के साथ साथ विदेशों के हर प्रोडक्ट का बहिष्कार करके स्वदेशी अपनाइए। शायद प्रकृति ने हमें ये ठोकर इसीलिए मारी है कि हम थोड़ा रुकें, सोचें और संभल जाएं।

विश्व युद्ध के दौरान अमेरिका ने जापान पर परमाणु हमले किया था। तो उसका ख़ामियाज़ा अमेरिका को अब तक भुगतना पड़ कहा हैं। आज तक जापानी एक भी अमेरिकी समान यहां तक कि उनका सेब तक नही खाते , ये है राष्ट्र भक्ति। हमें भी अब ऐसी ही राष्ट्र भक्ति दिखानी पड़ेगी।

आगे आने समय में ध्यान देने वाली बात……

बीमा खरीदते हैं तो TATA AIA Life.
कार लो तो TATA
लक्ज़री कार लो तो JAGUAR या LAND ROVER
चाय लो तो TATA TEA
AC लो तो VOLTAS
घड़ी लो तो TITAN
सॉफ्टवेयर लो तो TCS
नमक लो तो TATA SALT
स्टील लो तो TATA STEEL
इंटरनेट लो तो TATA TELENET
डिश tv लो तो TATA SKY
कॉर्पोरेट विद्युत लो तो TATA POWER
ग्रीन टी पियो तो TETLEY
ज्वेलरी लो तो TANISHQ
मिन.वाटर की बोतल लो तो HIMALAYN
शेयर लो तो TATA ग्रुप की CO.s के
मसाले आटा आदि लो तो TATA सम्पन्न
सीमेंट लो तो TATA शुद्ध

इनमें से कई प्रोडक्ट का आप मे से कई को ये पता भी नहीं होगा कि ये सभी TATA ग्रुप के BRANDS हैं….

जो व्यक्ति देश के संकट काल मे देश के साथ खड़ा है… हमें हमेशा उसके साथ खड़े रहना चाहिए.. कभी कोई प्रोडक्ट दुसरे की तुलना में 19 20 कम भी हो फीचर्स में या PRICE में थोड़ा ज्यादा भी…तब भी अपना छोटा मोटा नफा नुकसान न देख कर TATA का ही माल खरीदिए…देशभक्त व्यवसायी TATA को और मजबूत बनाइये🙏🙏🙏🙏

1500 करोड़ रुपये देने के लिए टाटा का आभार…और ये पहला मौका नहीं है जब टाटा देश के लिए आगे आए…ये इनका हमेशा का स्वभाव है …टाटा ग्रुप के शेयर्स को भी बेहद विश्वस्नीय माना जाता है।

टाटा की इस योगदान को याद रखे और वफ़ादारी के बदले हम भी इनसे वफादारी निभाएं

आप सब निवेदन हैं कि हिन्दुस्तान की इस आवाज को किसी व्यक्ति विशेष या फिर किसी खास  कम्पनी की ब्रांडीगं न समझे…. ये तो हिन्दुस्तान की पहली गुहार हैं। आगे के लेख में हिन्दुस्तान और भी कई गुहार हम सबहिन्दुस्तानीयों से करेगा… जिस पर हम सबको गौर करने की जरूरत हैं।..

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 + 10 =